HomeHindi NewsDrugs Smugglers in UP: लखनऊ की पार्टियों तक पहुंचा ड्रग, सिर्फ 5...

Drugs Smugglers in UP: लखनऊ की पार्टियों तक पहुंचा ड्रग, सिर्फ 5 दिन में 4735 अरेस्ट

Drugs Smugglers in UP: यूपी (UP) में ड्रग्स (Drugs) की तस्करी करने वालों पर NSA लगेगा। नशे के काले कारोबार की जड़ उखाड़ने के लिए सीएम योगी ने बड़ा अभियान चलाया है। सामने आया कि यूपी के ड्रग सप्लायर्स ने नेपाल से लेकर बिहार बॉर्डर तक बड़ा नेटवर्क खड़ा किया है।

सिर्फ 5 दिन में 4735 अरेस्ट

अगर यूपी में जनवरी से जुलाई तक के आंकड़ों की बात की जाए तो ड्रग्स और शराब के काले कारोबार से जुड़े करीब 60 हजार तस्कर और पेडलर्स को अरेस्ट किया गया है। फिर भी राज्य में करीब 10 लाख लोग नशे के कारोबार चलाने के लिए 250 गैंग चला रहे हैं। पिछले 5 दिन यानी जब से पुलिस ने ड्रग ने अभियान चलाया है, तब से ड्रग सप्लाई से जुड़े 4735 लोगों को अरेस्ट किया गया है।

अभी सिर्फ 10 तस्करों पर NSA लगा

अब खबर में आगे बढ़ने से पहले सरकारी दावे आंकड़ों में समझते हैं। जनवरी 2022 से जुलाई 2022 तक शराब और ड्रग्स की तस्करी करने वाले 10 तस्करों पर NSA लगाया गया है। 473 पर गैंगस्टर एक्ट, 254 पर गुंडा एक्ट और 305 बदमाशों की हिस्ट्रीशीट खोली गई है। इसके अतिरिक्त 226 केस में तस्करों की 3.41 अरब रुपए की संपत्ति कुर्क कर दी गई है। यूपी में एंटी नारकोटिक्स टास्क फोर्स (ANTF) बनाई गई है।

यूपी बार्डर पर ANTE का रडार

सबसे पहले आपको ड्रग पर ANTF के इनपुट बताते हैं। एडीजी लॉ एंड आर्डर प्रशांत कुमार ने बताया,”यूपी के अंदर नेपाल, बिहार, झारखंड, दिल्ली, मध्य प्रदेश और राजस्थान बार्डर से ड्रग्स और शराब लाई जाती है। STF और पुलिस ने जुलाई 2022 तक 4060 आरोपियों को पकड़कर 8.96 करोड़ की ड्रग्स जब्त की। 24 अगस्त से 29 अगस्त के बीच 675 पैडलर्स को अरेस्ट करके 8.96 करोड़ के मादक पदार्थ बरामद कर लिए। 606 मुकदमे दर्ज किए गए। इनमें 19 पर गैंगस्टर एक्ट में 5 मामले दर्ज किए हैं। गैंगस्टर एक्ट के तहत 14.79 करोड़ कीमत की संपत्ति जब्त की गई।”

सेंट्रल और स्टेट की नारकोटिक्स टीमों के साथ मिलकर काम करेगी ANTF

रिटायर्ड अपर मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी ने बताया,” एंटी नारकोटिक्स टास्क फोर्स के बाराबंकी और गाजीपुर में नारकोटिक्स पुलिस थाने भी खोले जाएंगे। ANTF में केंद्र की नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB), सेंट्रल ब्यूरो ऑफ नारकोटिक्स और डायरेक्टरेट ऑफ रेवेन्यू इंटेलीजेंस (DRI) के अधिकारियों को प्रतिनियुक्ति के आधार पर लिया जाएगा। अपर पुलिस महानिदेशक, अपराध इसकी अगुवाई करेंगे। अभी प्रतिनियुक्ति पर आए अब्दुल हमीद को एंटी नारकोटिक्स टास्क फोर्स का DIG बनाया गया है।”

इससे पहले सीएम योगी ने कहा था, ” नशे का कारोबार सिर्फ क्रिमिनल ऑफेन्स नहीं है, बल्कि यह एक राष्ट्रीय अपराध है। नशे जुड़े अपराधियों की संपत्तियों को जब्त किया जाएगा। उनके पोस्टर्स सार्वजनिक स्थानों पर लगाए जाएं, ताकि राष्ट्र के खिलाफ अपराध कर रहे, ऐसे अपराधियों को सबक सिखाया जा सके।”

टास्क फोर्स को अरेस्टिंग, FIR की पावर
टास्क फोर्स का सर्च अभियान, अरेस्टिंग और FIR करने की पावर है।

स्पेशल स्निफर डॉग किए जा रहे तैयार

यूपी पुलिस की टीम में जल्द ही विशेष स्निफर डॉग शामिल होने जा रहे हैं। जो ड्रग्स और विस्फोटक को पकड़ने में मददगार होंगे। पुलिस मॉर्डनाइजेशन के तहत 174 डॉग खरीदे जा रहे हैं। इसमें 117 डॉग को ट्रैकर, 46 डॉग को स्निफर और 11 डॉग को नारकोटिक्स की ट्रेनिंग दी जाएगी।

Drugs Smugglers in UP: 5 दिन में 2.27 करोड़ की अवैध शराब पकड़ी, 4060 अरेस्ट

अब अवैध शराब कारोबारी की बात करते हैं। यूपी पुलिस ने 24 अगस्त से 29 अगस्त के बीच पूरे प्रदेश में छापेमारी की। अवैध शराब का कारोबार करने वाले 4060 लोगों को अरेस्ट किया। इनके खिलाफ 3951 मुकदमे दर्ज किए। 2.27 करोड़ रुपए की अवैध शराब बरामद की गई है। पुलिस ने अवैध और जहरीली शराब कारोबार से जुड़े 54 तस्करों के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट के 11 मुकदमे दर्ज किए। जबकि 165 अपराधियों को धारा 60 (क) आबकारी अधिनियम के तहत पाबंद किया गया। इन धाराओं में फांसी तक की सजा है।

कच्ची शराब बनाने वाले 50 हजार अरेस्ट

अवैध शराब सप्लाई से जुड़े 50 हजार लोगों को 31 जुलाई तक अरेस्ट किया गया। इनके पास से 3.32 लाख लीटर अंग्रेजी शराब, 11.48 लाख लीटर देसी शराब बरामद हुई। पुलिस और आबकारी विभाग ने 50615 मुकदमे दर्ज किए हैं।

आबकारी विभाग ने कच्ची शराब तैयार करने वाली 3781 भट्ठियां और 23.51 लाख किलो लहन नष्ट किया गया।

रेव पार्टी में हेरोइन से लेकर मैथाड्रोन ड्रग्स, सब कुछ पहुंच रहा

यूपी STF के मुताबिक, रेव पार्टी में लड़कों और लड़कियों के बीच हेरोइन से लेकर मैथाड्रोन ड्रग्स डिमांड में हैं। पकड़े गए पैडलर्स ने बताया, अब कोकीन की इंटरनेशनल वैल्यू बढ़ने के बाद मैफाड्रोन (सिन्थेटिक कोकीन) की सप्लाई शुरू कर दी है। जो अभी तक मुंबई, दिल्ली और गोवा जैसे महानगरों में होने वाली रेव पार्टी में प्रयोग होती थी।

लखनऊ की पार्टियों तक ये ड्रग पहुंच चुका है। इसकी सप्लाई करने वाले 6 लड़कों को 9 नवंबर 2021 को गिरफ्तार किया था। इनके पास से 2.65 करोड़ की एमडी ड्रग्स बरामद की गई थी। आरोपियों के मुताबिक यह लोग नेपाल से लखनऊ के रास्ते महाराष्ट्र तक ड्रग्स की सप्लाई कर रहे हैं। इधर, गुजरात और हरियाणा में मांग बढ़ने पर ऑनलाइन सप्लाई भी करने लगे थे।

पेन किलर और कफ सीरप सप्लाई का नेटवर्क गुजरात से नेपाल तक

ड्रग सप्लायर बिहार से बांग्लादेश तक कोडीन वाले सिरप, ट्रामाडोल, अल्प्राजोलम, क्लोनाजेपॉम, डाइजापाम, निट्राजेपाम, पेंटाजोसिन, बुप्रेनारफिन की भी अवैध सप्लाई कर रहे हैं। नशे के लिए इनका इस्तेमाल होता है। लखनऊ, गोरखपुर, वाराणसी, गाजियाबाद, आगरा, कानपुर और मेरठ में छापामारी हुई हैं।

यह भी पढ़ें-  Indian aircraft carrier: भारत का पहला स्वदेशी एयरक्राफ्ट कैरियर ‘आईएनएस विक्रांत’ कितना ताकतवर है?

Source

India Times News
India Times Newshttps://www.indiatimesnewstoday.com
Ajay Srivastava founder india times news . Through his life, Ajay Srivastava has always been the strongest proponent of News an media. Over the years, he has lent his voice to a number of issues but has always remained focused on propagating non-violence, equality and justice.
RELATED ARTICLES

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Most Popular

Recent Comments