HomeINDIA NEWSशिवसेना और सिखों के बीच टकराव के बाद पटियाला में तनाव पूर्ण...

शिवसेना और सिखों के बीच टकराव के बाद पटियाला में तनाव पूर्ण माहौल, इंटरनेट सेवा पर रोक

jagran
Photo – Jagran

खालिस्तान समर्थक संगठनों और हिंदू संगठनों के सदस्यों के बीच शुक्रवार को हुई झड़प के बाद पटियाला जिले में लगाया गया कर्फ्यू शनिवार सुबह हटा लिया गया। अब शहर में स्थिति सामान्य है और स्कूल और विभिन्न प्रतिष्ठान भी खुले हैं। इसके बावजूद प्रशासन हाई अलर्ट पर है। उधर, पंजाब सरकार ने आईजी समेत कई अधिकारियों को पटियाला स्थानांतरित कर दिया है.

jagran
Photo – Jagran

जागरण न्यूज़ से मिली जानकारी के मुताबिक पटियाला में शुक्रवार शाम सात बजे से शनिवार सुबह छह बजे तक कर्फ्यू लगा दिया गया था। शहर और जिले में कर्फ्यू के समय को तो नहीं बढ़ाया गया है, लेकिन प्रशासन की ओर से पूरी सतर्कता बरती जा रही है।डीसी साक्षी साहनी ने पटियाला जिला में आज मोबाइल इंटरनेट सर्विस (2G, 3G ,4G ,सीडीएमए) सभी एसएमएस, सभी डोंगल के इस्तेमाल पर सुबह 9:30 बजे से शाम 6:00 बजे तक पाबंदी लगा दी है। इस संबंध में संबंधित टेलीकॉम कंपनियों को भी जिला प्रशासन ने सूचित कर दिया है। इस दौरान मोबाइल फोन पर वॉयस कॉल की सुविधा मुहैया रहेगी।

पुलिस अधिकारीयों का तबादला

पंजाब में भगवान मान की सरकार ने आईजी, वरिष्ठ पुलिस अधिकारी (सीनियर एसपी) और एसपी को पटियाल पर्वत पर स्थानांतरित कर दिया। उनके स्थान पर मुखविंदर सिंह चिन्ना नए आईजी बने, दीपक पारीक नए एसएसपी और वजीर सिंह नए एसपी पटियाला बने।

हत्या के प्रयास सहित तीन मामले दर्ज

इस बीच, प्रधान मंत्री भगवंत मान ने घटना की जांच के आदेश दिए हैं और शांति बनाये रखने की अपील की है। पुलिस ने अजनबियों के खिलाफ हत्या के प्रयास सहित तीन मामले दर्ज किए हैं, जिसमें हिंदू संगठन हरीश सिंगला से जुड़े एक व्यक्ति को हिंसा के मामले दर्ज करने के बाद रात को गिरफ्तार किया गया था। नगर परिषद ने आज (शनिवार) “शांति समिति” बनाकर दोनों पक्षों की बैठक बुलाई। वहीं नाराज हिंदू संगठनों ने पंजाब बंद का हवाला दिया है.

‘खालिस्तान मुर्दाबाद मार्च’

गौरतलब है कि शुक्रवार को सुबह 10 बजे शहर में शिवसेना बाल ठाकरे द्वारा ‘खालिस्तान मुर्दाबाद मार्च’ निकाला गया। वहीं, पाकिस्तान समर्थक शिरोमणि अकाली दल (अमृतसर) के नेतृत्व में अन्य संगठनों ने विरोध मार्च शुरू किया। लगभग 11:00 बजे, श्री काली देवी के सामने हिंदू कार्यकर्ता और खालिस्तान समर्थक कार्यकर्ता आपस में भिड़ गए।

तनातनी बढ़ने के बाद दोनों ओर से पथराव शुरू हो गया। हिंदू संगठन के सदस्यों का आरोप है कि पथराव की शुरुआत मंदिर के बाहर से गुजर रहे खालिस्तान समर्थक संगठन के कार्यकर्ताओं ने की। वहीं, खालिस्तान समर्थक संगठनों के सदस्यों ने आरोप लगाया कि उन पर मंदिर के भीतर से पथराव हुआ।

यह भी पढ़ें-  कैसे आसानी से अपनी वेबसाइट पे आर्गेनिक ट्रैफिक लाएं फ्री में- How to Easily Increase Your Website’s Organic Traffic for Free

Source

 

India Times News
India Times Newshttps://www.indiatimesnewstoday.com
Ajay Srivastava founder india times news . Through his life, Ajay Srivastava has always been the strongest proponent of News an media. Over the years, he has lent his voice to a number of issues but has always remained focused on propagating non-violence, equality and justice.
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Most Popular

Recent Comments